अलर्ट: इस मैसेज से रहें दूर वरना खाली हो जाएगा आपका खाता!

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने देश के सभी टैक्सपेयर्स को अलर्ट किया है. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट का कहना है कि आप किसी भी फर्जी टैक्स रिफंड मैसेज के बहकावे में बिल्कुल भी नहीं आएं. साथ ही, किसी भी सूरत में अपने बैंक अकाउंट (Bank Account), पिन (PIN), ओटीपी (OTP), पासवर्ड और फाइनेंशियल अकाउंट से संबंधित अन्य जानकारी किसी अनजान सोर्स के साथ शेयर न करें. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट इस बारे में एसएमएस और ईमेल के जरिये सभी रजिस्टर्ड करदाताओं को जागरूक भी कर रहा है.

आपको बता दें कि पिछले लंबे समय से कई लोगों को फ्रॉड करने वालों के मैसेज आ रहे हैं. जिसमें बैंक डिटेल समेत कई सीक्रेट जानकारियां मांगी गई है. इसीलिए डिपार्टमेंट ने अपनी वेबसाइट पर सभी आईटीआर भरने वालों को इस तरह के फ्रॉड से बचने की सलाह दी है.

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट नहीं मांगता ये जानकारियां-इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के मुताबिक विभाग द्वारा कभी भी फोन, एसएमएस या ई-मेल के जरिये करदाताओं से डेबिट या क्रेडिट कार्ड के पिन, ओटीपी, पासवर्ड या ऐसी ही कोई जानकारी नहीं मांगी जाती है.

कैसे करें इसकी पहचान-इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कहा है कि फिशिंग ई-मेल की पहचान सावधानी से करें. इसके लिए इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने कुछ बातें बताई हैं.

-जिस आईडी से मेल आया है, उसे ध्यान से देखें. उसमें या तो गलत स्पेलिंग होगी या इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की वेबसाइट से मिलता-जुलता कोई दूसरा नाम होगा.

भूलकर भी न करें ये काम
-ऐसे किसी मेल के साथ अचैटमेंट को न खोलें.
-मेल में दिए गए किसी लिंक को क्लिक न करें.
-अगर आप धोखे से किसी लिंक को क्लिक कर दें तो उसमें कहीं भी अपने बैंक अकाउंट, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड आदि की निजी जानकारी इंटर न करें.
इनपुट: न्यूज़18

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.