UAE में दूर होगी पानी दिक्कत, निकाला यह नायाब तरीका

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में पानी की किल्ल्त एक आम परेशानी है. जिसका समाना अमूनन गरीब लोगों को अधिक करना पड़ता है. पानी की कमी के कारण तो कई बार UAE में लोगों की प्यास भी नहीं बुझ पाती है. लेकिन अब UAE ने पानी की कमी को दूर करने का रास्ता निकाल लिया है. अब UAE के लोगों की प्यास आइसबर्ग की सहारे बुझेगी. जिसे अंटार्कटिका से लाने की तैयारी भी शुरू कर दी गई है. कहा जा रहा है आइसबर्ग का टुकड़ा करीब दो किलोमीटर लंबा और चौड़ा होगा. इस बारे जानकारी दे रहे एक UAE व्यापारी अब्दुल्ला अल्शेही का यह कहना है कि आइसबर्ग को 9 हजार किलोमीटर दूर खाड़ी देश ले जाया जाएगा.

अब्दुल्ला ने यह भी बताया कि अगर उनका यह उपाय कामयाब रहा तो यूएई में पानी की समस्या पूरी तरह से खत्म हो सकेगी और मौसम की स्थिति में सुधार भी लाया जा सकेगा. अब्दुल्ला के मुताबिक आइसबर्ग को अंटार्कटिका से अरब लाने से यहां पर पर्यटकों की संख्या में भी इजाफा होगा. गौरतलब है कि अब्दुल्ला और उनकी टीम इस प्राजेक्ट पर पिछले छह साल से काम कर रही है. बताया जाता है कि अरब देश पहुंचने में आइसबर्ग को 10 महीने का वक्त लगेगा.

आइसबर्ग को दक्षिण ध्रुव के हर्ड आइसलैंड से एक मेटल बेल्ट की मदद से खींचा जाएगा. इस बेल्ट को इस तरह से डिजाइन किया गया है, जिससे आइसबर्ग को किसी भी तरह का नुकसान न हो. अब्दुल्ला के मुताबिक 10 महीने की यात्रा के दौरान गर्मी के चलते आइसबर्ग 30 प्रतिशत तक खत्म हो जाएगा.

अब्दुल्ला ने के अनुसार इस प्रोजेक्ट में 410 से 550 करोड़ रुपए तक का खर्च आएगा. इसे एक ट्रायल प्रोजेक्ट के तौर पर देखा जा रहा है. अगर यह ट्रायल कामयाब रहा तो इससे बड़े आइसबर्ग को अरब लाने की तैयारी होगी. इसे लाने में 1 हजार करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान है.

Leave a Comment